10 Lines on International Workers' Day

10 Lines on International Workers’ Day

आज हम आप के लिए “10 Lines on International Workers’ Day” या “10 Lines on Labour Day” पर आसान निबंध लेकर आये है। अन्तर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस की शुरुआत एक मई 1886 को अमेरिका में एक आंदोलन से हुई थी। इस आंदोलन के दौरान अमेरिका में मजदूर काम करने के लिए 8 घंटे का समय निर्धारित किए जाने को लेकर आंदोलन पर चले गए थे। जब अमेरिका की मज़दूर यूनियनों नें काम का समय 8 घंटे से ज़्यादा न रखे जाने के लिए हड़ताल की थी।

1 मई को दिन दुनिया के कई देशों में “अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस” के तौर पर मनाया जाता है। ये दिन दुनिया के मजदूरों और श्रमिक वर्ग को समर्पित है। India में मजदूर दिवस की शुरुआत चेन्नई में 1 मई 1923 में हुई। भारत में लेबर किसान पार्टी ऑफ हिन्दुस्तान ने 1 मई 1923 को मद्रास में इसकी शुरुआत की थी। यही वह मौका था जब पहली बार लाल रंग झंडा मजदूर दिवस के प्रतीक के तौर पर इस्तेमाल किया गया था। यह भारत में मजदूर आंदोलन की एक शुरुआत थी जिसका नेतृत्व वामपंथी व सोशलिस्ट पार्टियां कर रही थीं। दुनियाभर में मजदूर संगठित होकर अपने साथ हो रहे अत्याचारों व शोषण के खिलाफ आवाज उठा रहे थे। आप को Labour Day के Topic पर निबंध लिख सकते है।

Essay Writing

10 Lines on International Workers’ Day English

  1. The day on May 1 is celebrated as “International Workers’ Day” in many countries of the world. This day is dedicated to the workers and working class of the world.
  2. These days are also called Labor Day, May Day, Workers’ Day, International Workers’ Day, Workers’ Day, Labor Day and Labor Day.
  3. International Labor Day started with a movement in America on May 1, 1886. During this movement, the workers in America went on a movement to fix the time of 8 hours to work.
  4. On May 1, 1886, working people took to the streets all over America against the exploitation and exploitation of 15-15 hours a day. During this, some laborers were fired upon by the police, in which many laborers died and more than 100 people were injured.
  5. In 1889, the second meeting of the International Socialist Conference (Paris) passed a resolution that May 1 be celebrated as International Workers’ Day.
    In all the countries of the world including India, the foundation was laid for fixing 8 hours for work.
  6. On this day, in many countries of the world, all workers and workers have a holiday. On this occasion, people associated with trade unions organize rallies and meetings.
  7. It was started in Madras by the “Labor Kisan Party of Hindustan” party on 1 May 1923. At the same time, for the first time the red flag was used as a symbol of Labor Day.
  8. Today is the day to salute the achievements of the workers and their contribution in the development of the country. This day is celebrated in respect of workers, their unity and in support of their rights.
  9. The conference is organized by the International Labor Organization (ILO) on this day. In many countries, welfare schemes are announced for the workers.
  10. On the occasion of Labor Day, many beneficial schemes and programs are broadcast to create awareness among workers through TV, newspapers, and radio.

10 Lines on Labor Day in Hindi

  1. 1 मई को दिन दुनिया के कई देशों में “अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस” के तौर पर मनाया जाता है। ये दिन दुनिया के मजदूरों और श्रमिक वर्ग को समर्पित है।
  2. इन दिन को श्रमिक दिवस, मई दिवस, कामगार दिन, इंटरनेशनल वर्कर डे, वर्कर डे, लेबर डे और मजदूर दिवस भी कहा जाता है।
  3. अन्तर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस की शुरुआत एक मई 1886 को अमेरिका में एक आंदोलन से हुई थी। इस आंदोलन के दौरान अमेरिका में मजदूर काम करने के लिए 8 घंटे का समय निर्धारित किए जाने को लेकर आंदोलन पर चले गए थे।
  4. 1 मई, 1886 के दिन मजदूर लोग रोजाना 15-15 घंटे काम कराए जाने और शोषण के खिलाफ पूरे अमेरिका में सड़कों पर उतर आए थे। इस दौरान कुछ मजदूरों पर पुलिस ने गोली चला दी थी जिसमें कई मजदूरों की मौत हो गई और 100 से ज्यादा लोग घायल हो गए।
  5. 1889 में अंतर्राष्ट्रीय समाजवादी सम्मेलन (पेरिस) की दूसरी बैठक में यह प्रस्ताव पारित किया कि 1 मई को अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस के रूप में मनाया जाएगा।
    भारत सहित दुनिया के तमाम देशों में काम के लिए 8 घंटे निर्धारित करने की नींव पड़ी।
  6. इस दिन दुनिया के कई देशों में सभी कामगारों और श्रमिकों का अवकाश छुट्टी होती है। इस मौके पर मजदूर संगठनों से जुड़े लोग रैली व सभाओं का आयोजन करते हैं।
  7. 1 मई 1923 को “लेबर किसान पार्टी ऑफ हिन्दुस्तान” पार्टी ने मद्रास में इसकी शुरुआत की थी। इसी समय पहली बार लाल रंग झंडा मजदूर दिवस के प्रतीक के तौर पर इस्तेमाल किया गया था।
  8. आज मजदूरों की उपलब्धियों को और देश के विकास में उनके योगदान को सलाम करने का दिन है। ये दिन मजदूरों के सम्मान, उनकी एकता और उनके हक के समर्थन में मनाया जाता है।
  9. अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक संगठन (ILO) द्वारा इस दिन सम्मेलन का आयोजन किया जाता है। कई देशों में मजदूरों के लिए कल्याणकारी योजनाओं की घोषणाएं की जाती है।
  10. सरकार भी “मजदूर दिवस के अवसर पर कई सारी लाभकारी योजनाएं एवं टीवी,अखबार,और रेडियो के माध्यमों से मजदूर को जागृति करने वाले कार्यक्रम प्रसारित किए जाते हैं।

Conclusion

हम आशा करते हैं कि आपको 10 Lines on International Workers’ Day निबंध के माध्यम से “Labour Day” इससे जुडी कुछ जरुरी जानकारी हमने इस पोस्ट के जरिये आप तक पहुंच रहे है। हमे उम्मीद है आप को “अन्तर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस” पर हमारे द्वारा दी गई जानकारी आप लोगों को अच्छी लगी होगी। अगर आपको हमारा पोस्ट अच्छा लगा हो, तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कीजिए और Please Social में इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करके, ताकि इसका लाभ अधिक से अधिक लोगों ताकि पहुंच सके।

5/5 - (1 vote)

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top