Bhagavad Geeta Saar in Hindi / भागवत गीता के अनमोल वचन

आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको Bhagavad Geeta Saar in Hindi के अनमोल वचन को हिंदी में आपके लिए लेकर आए हैं यह भगवत गीता हिंदू धर्म के एक सर्वोत्तम ग्रंथों में से एक है जिसमें श्री कृष्ण जी ने जीवन का सार बताया है।

Bhagavad Geeta Saar in Hindi, श्री कृष्ण जी द्वारा दिए गए उद्देश्य उस क्षण के हैं जब अर्जुन को स्वयं श्री कृष्ण ने जीवन के सही पथ के बारे में एहसास करवाया था ताकि उन्हें अपने कर्तव्यों या दायित्वों का एहसास हो और मोक्ष को पा सके।

Bhagavad Geeta Saar in Hindi, यहां पर बताए गए गीता के उपदेश श्री भगवान कृष्ण जी ने स्वयं युद्ध के दौरान अर्जुन को बताए थे। श्री कृष्ण जी द्वारा दिए गए जीवन के सही मार्गदर्शन पर चलने की राह ताकि उसे पुरुषार्थ की प्राप्ति हो पाए, तो आइए हम आपके लिए भगवत गीता के उपदेश की कुछ पंक्तियां का संग्रह आपको प्रस्तुत करते हैं।

 

भगवत गीता के अनमोल वचन
भगवत गीता के अनमोल वचन

Bhagavad Geeta Saar in Hindi

मैं सभी प्राणियों को एकसमान रूप से देखता हूं, मेरे लिए ना कोई कम प्रिय है ना ही ज्यादा, लेकिन जो मनुष्य मेरी प्रेमपूर्वक आराधना करते है, वो मेरे भीतर रहते है और में उनके जीवन में आता हूं।

Bhagavad Geeta Saar in Hindi
Bhagavad Geeta Saar in Hindi
Bhagavad Geeta Saar in Hindi
Bhagavad Geeta Saar in Hindi

You can find also Happy Birthday Hindi Wishes

जन्म लेने वाले के लिए मृत्यु उतनी ही निश्चित है, जितना कि मरने वाले के लिए जन्म लेना। इसलिए जो अपरिहार्य है, उस पर शोक नही करना चाहिए।

Bhagavad Geeta Saar in Hindi
Bhagavad Geeta Saar in Hindi

 

Bhagavad Geeta Saar in Hindi
Bhagavad Geeta Saar in Hindi

 मन  अशांत है और उसे नियंत्रित करना कठिन है, लेकिन अभ्यास से इसे वश में किया जा सकता है।

तुम क्यों व्यर्थ में चिंता करते हो ?
तुम क्यों भयभीत होते हो ?
कौन तुम्हे मार सकता है ?
आत्मा न कभी जन्म लेती है और न ही इसे कोई मार सकता है,
ये ही जीवन का अंतिम सत्य है।

Bhagavad Geeta Saar in Hindi
Bhagavad Geeta Saar in Hindi

 

न तो यह शरीर तुम्हारा है और न ही तुम इस शरीर के मालिक हो,
यह शरीर 5 तत्वों से बना है – आग, जल, वायु, पृथ्वी और आकाश।
एक दिन यह शरीर इन्ही 5 तत्वों में विलीन हो जाएगा।

परिवर्तन ही संसार का नियम है,
एक पल में हम करोड़ों के मालिक हो जाते है
और दुसरे पल ही हमें लगता लगता है
की हमारे आप कुछ भी नही है।

उससे मत डरो जो वास्तविक नहीं है,
ना कभी था ना कभी होगा
जो वास्तविक है,
वो हमेशा था और उसे कभी नष्ट नहीं किया जा सकता।

Bhagavad Geeta Saar in Hindi
Bhagavad Geeta Saar in Hindi

 

मनुष्य को परिणाम की चिंता किए बिना,
लोभ-लालच,निस्वार्थ और निष्पक्ष होकर
,
अपने कर्तव्यों का पालन करना चाहिए।

न तो यह शरीर तुम्हारा है और न ही तुम इस शरीर के मालिक हो,
यह शरीर 5 तत्वों से बना है – आग, जल, वायु, पृथ्वी और आकाश।
एक दिन यह शरीर इन्ही 5 तत्वों में विलीन हो जाएगा।

अपने आपको भगवान के प्रति समर्पित कर दो,
यही सबसे बड़ा सहारा है,
जो कोई भी इस सहारे को पहचान गया है वह डर,
चिंता और दुखो से आजाद रहता है ।

Bhagavad Geeta Saar in Hindi
Bhagavad Geeta Saar in Hindi

 वह व्यक्ति जो अपनी मृत्यु के समय मुझे याद करते हुए अपना शरीर त्यागता है,
वह मेरे धाम को प्राप्त होता है और इसमें कोई शंशय नही है।

कोई भी इंसान जन्म से नहीं बल्कि अपने कर्मो से महान बनता है।

Bhagavad Geeta Saar in Hindi
Bhagavad Geeta Saar in Hindi

About Bhagavad Geeta Saar in Hindi


हम यहाँ आपको बहुत सारे Bhagavad Geeta Saar in Hindi के प्रेरणादायक मैसेज की सूची प्रोवाइड करा रहे है, जिन्हें कि आप अपने दोस्त को कॉपी करके व्हाट्सएप, फेसबुक, इंस्टाग्राम आदि पर शेयर कर सकते हो और हमने आप लोगो के लिए नीचे बहुत सारे टेक्स्ट मैसेज, बहुत सारी इमेज, को बहुत सारी अनमोल वचन का समहू आप सब लोगो मकई लिए लगाया है जिसको भी आप डाउनलोड करके अपने दोस्तों को शेयर कर सकते है।

इन पोस्ट्स को भी ज़रूर पढ़ें, आप को जरूर पसंद आये हम या उम्मीद करते है :

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *