10 Lines on Dhantersa

धनतेरस पर 10 पंक्तियां

10 Lines on Dhantersa, धनतेरस एक ऐसा त्योहार है जो हर साल हिंदुओं द्वारा मनाया जाता है। यह दिवाली के महान त्योहार के पांच दिनों में से पहला दिन का उत्सव है। आश्विन मास की त्रयोदशी तिथि को पड़ने के कारण इसे ‘धनत्रयोदशी’ कहा जाता है। धनतेरस के दिन तांबे, स्टील, सोना और चांदी जैसी धातुओं से बनी वस्तुओं को खरीदना शुभ माना जाता है।

लोग धनतेरस पर अपने घरों में बड़ी श्रद्धा के साथ देवी लक्ष्मी की पूजा करते हैं और उनसे स्वास्थ्य, धन और समृद्धि के लिए आशीर्वाद मांगते हैं। धनतेरस के दिन भगवान धन्वंतरि की भी पूजा की जाती है और लोग भगवान धन्वंतरि से अच्छे स्वास्थ्य और शक्ति के लिए आशीर्वाद मांगते हैं।

Essay Writing

10 Lines on Dhantersa in Hindi

  1. धनतेरस का त्यौहार पूरे भारत में पांच दिवसीय दीवाली समारोहों के रूप में मनाया जाता है।
  2. धनतेरस को ‘धनत्रियोदशी’ और ‘धन्वंतरी त्रियोंदशी’ भी कहते है।
  3. धनतेरस हिन्दुओं का एक बेहद ही महत्वपूर्ण त्यौहार है जो हिन्दू कैलेंडर के कार्तिक माह में मनाया जाता है ।
  4. धनतेरस के त्योहार को महान उत्साह और आनंद के साथ मनाया जाता है।
  5. धनतेरस के दिन प्रातः काल गंगा स्नान करना बड़ा ही अच्छा माना जाता है।
  6. इस त्यौहार पर, लोग धन की देवी लक्ष्मी जी और मृत्यु के देवता यम की पूजा करते हैं।
  7. भगवान यम से अच्छे स्वास्थ्य और देवी लक्ष्मी से समृद्धि के रूप में आशीर्वाद प्राप्त करते है। लोग अपने घरों और कार्यालयों को सजाते है।
  8. आयुर्वेद और अच्छे स्वास्थ्य के देवता भगवान धनवंतरी की भी स्वास्थ्य और दीर्घायु प्रदान करने के लिए पूजा की जाती है।
  9. धनतेरस पर सोने या चांदी जैसी कीमती धातुओं से बने नए बर्तन या सिक्के खरीदना बहुत लोकप्रिय है।
  10. चूंकि यह समृद्धि का त्योहार है, इसलिए लोग अपने घरों को भी साफ करते हैं।
  11. वर्ष 2021 में धनतेरस 2 नवंबर को मनाया जाएगा।
  12. धनतेरस के दिन झाड़ू खरीद कर घर की सफाई करना बहुत ही शुभ माना जाता है।

धनतेरस के दिन क्या क्या करना चाहिए

  1. इस दिन धन्वंतरि जी का पूजन करना चाहिए।
  2. माता लक्ष्मी गणेश जी और मृत्यु के देवता यम की भी पूजा करना चाहिए।
  3. इस दिन धन के देवता कुबेर की भी पूजा करना चाहिए जोकि बहुत शुभ माना जाता है।
  4. इस दिन नया झाड़ू और सुपा खरीद कर इसकी पूजा करना चाहिए।
  5. इस दिन प्रातः काल गंगा स्नान बहुत ही शुभ माना जाता है।
  6. तांबे, पीतल, चांदी के गृह-उपयोगी नवीन बर्तन व आभूषण खरीदना चाहिए।
  7. सायंकाल पश्चात तेरह दीपक प्रज्वलित कर तिजोरी में कुबेर का पूजन करना चाहिए।
  8. माता लक्ष्मी जी को इस दिन कमल पुष्प अर्पित करना चाहिए।
  9. इस दिन बहुत से लोग श्रीमंगल यंत्र का भी पूजन करते हैं।

धनतेरस के दिन क्या क्या नहीं करना चाहिए

  1. धनतेरस पर लोहे से बनी चीजें नहीं खरीदना चाहिए।
  2. धनतेरस के दिन कांच की चीजें नहीं खरीदनी चाहिए।
  3. काला रंग हमेशा से दुर्भाग्य का प्रतीक माना गया है इसलिए धनतेरस पर काले रंग की चीजें नहीं खरीदनी चाहिए।
  4. धनतेरस के शुभ अवसर पर कैंची चाकू जैसी चीजें भी नहीं खरीदनी चाहिए।
  5. धनतेरस के दिन कूड़ा कबाड़ा जैसी चीजों को घर में नहीं रखना चाहिए और उसे फेंक देना चाहिए।
  6. घर का मुख्य द्वार को भी साफ रखना चाहिए।
  7. इस दिन भगवान कुबेर की ही नहीं साथ में।
  8. माता लक्ष्मी गणेश जी और धन्वंतरी की भी पूजा करनी चाहिए।
  9. धनतेरस के दिन घर में बिल्कुल कलह ना करें. मां लक्ष्मी को प्रसन्न करना चाहते हैं तो घर की स्त्रियों का सम्मान करें. आज के दिन लड़ाई-झगड़े से दूर ही रहें।
  10. इस दिन अपने घर से लक्ष्मी का प्रवाह बाहर ना होने दें अर्थात घर के रुपया पैसा किसी को भी आज के दिन उधारी ना दें।
5/5 - (2 votes)

Leave a Comment