10 Lines on Pongal Festival

10 lines on Pongal Festival

पोंगल

आज हम आपके लिए पर एक आसान निबंध लेकर आए हैं 10 lines on Pongal Festival, पोंगल भारत के दक्षिणी राज्य का एक प्रमुख हिन्दू त्यौहार है।यह पर्व तमिल कैलेंडर के थाई माह के पहले दिन से मनाना आरम्भ हो जाता है। पोंगल का यह महापर्व भारत में प्राचीन समय से ही मनाया जा रहा है।चार दिवसीय इस पर्व में सभी दिन अलग-अलग कार्यक्रम और पूजा कार्य किए जाते हैं। चौथे दिन को महिलाएं एक खास पूजा करती हैं और एक दूसरे को पोंगल प्रसाद तथा मिठाई देती हैं। दक्षिण में पोंगल का पर्व मनाया जाता है वहीं उत्तरी राज्यों में मकर संक्रांति तथा लोहड़ी का पर्व भी मनाया जाता है। यह पर्व तमिलनाडु की विरासत माना जाता है।

10 Lines on Pongal Festival

Essay Writing

10 lines on Pongal Festival in Hindi

  1. पोंगल भारत के दक्षिणी राज्य का एक प्रमुख हिन्दू त्यौहार है।यह पर्व तमिल कैलेंडर के थाई माह के पहले दिन से मनाना आरम्भ हो जाता है।
  2. यह पर्व सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने और धान की फसल कटने की खुशी में मनाया जाता है।
  3. पोंगल का यह महापर्व भारत में प्राचीन समय से ही मनाया जा रहा है।चार दिवसीय इस पर्व में सभी दिन अलग-अलग कार्यक्रम और पूजा कार्य किए जाते हैं।
  4. पोंगल पर्व के दौरान ही दक्षिण भारत का सुप्रसिद्ध पर्व जलीकट्टू भी मनाया जाता है।
  5. पोंगल एक प्रसाद होता है जो चावल, दूध और गुड़ आदि से बनाकर भगवान सूर्य को अर्पित किया जाता है।
  6. पोंगल पर्व का पहला दिन भोगी के नाम से मनाया जाता है और इस दिन भगवान इंद्र की पूजा की जाती है।
  7. दूसरे दिन मुख्य पर्व होता है जिसे थाई पोंगल कहते हैं  इस दिन लोग भगवान सूर्य की पूजा करते हैं।
  8. तीसरे दिन मट्टू पोंगल को लोग अपने मवेशियों को पूजते हैं तथा भगवान शिव की पूजा करते हैं।
  9. पोंगल के चौथे दिन को कानुम पोंगल के नाम से जानते हैं और लोग एक साथ मिलकर सामूहिक भोजन का आयोजन करते हैं।
  10. चौथे दिन को महिलाएं एक खास पूजा करती हैं और एक दूसरे को पोंगल प्रसाद तथा मिठाई देती हैं।
  11. दक्षिण में पोंगल का पर्व मनाया जाता है वहीं उत्तरी राज्यों में मकर संक्रांति तथा लोहड़ी का पर्व भी मनाया जाता है। यह पर्व तमिलनाडु की विरासत माना जाता है।

Conclusion

हम आशा करते हैं कि  10 Lines on Pongal Festival  के माध्यम से आपको Pongal के बारे में जानकारी मिली होंगे , जल्‍लीकट्टू  तमिलनाडु के गौरव तथा संस्कृति का पर्व माना जाता है। जो पोंगल त्यौहार पर आयोजित कराया जाता है। हमे उम्मीद है के आप को जल्‍लीकट्टू पर रोचक जानकारी मिली होगी और जो आपको पसंद आई होगी। अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो कृपया कमेंट बॉक्स को लाइक और कमेंट करें।

5/5 - (2 votes)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *